kids story book


All Stories

उस डायन का साया
ये कहानी मुझे मेरी मां ने सुनाई थी. मेरी मां एक छोटे से शहर से संबंध रखती हैं और ऐसा माना जाता है कि उस गांव में कुछ बुरी शक्तियां भी वास करती हैं. ऐसी ही एक बुरी आत्मा से सामना हुआ मेरे नानाजी का.....



वो तेरे प्यार का गम
''तुम्हें क्या मिला वह तो मैं नहीं जानता लेकिन एक बात जरूर जानता हूँ कि तुमने उस शख्स को खोया है जो कभी अपने आपसे भी ज्यादा तुम्हें प्यार करता था। तुमने उसे धोखा दिया है जिसने अपने जीवन में सिर्फ....



उनकी बाँहों में
मैं हमेशा एक ऐसे आदर्श व्यक्ति की चाह रखती थी जो कुछ गंभीर तो कुछ बुद्धू सा हो, जिम्मेदार होने के साथ हाजिरजवाब हो और प्यार देने के मामले में भी बिल्कुल सच्चा हो। और बहुत से लोगों से मिलने के बाद....



किस्सा पहले पहले प्यार का
घर के हालात ही कुछ ऐसे थे की आधा घर किराये पर देना पड़ा. और किस्मत देखो की घर को किराये पर लेने आई दो लड़कियां. दोनों बहने थी. बड़ी बहन बेहद ही खूबसूरत थी और कॉलेज में पड़ती थी. छोटी अभी स्कूल में ही....




सत्य पर रखें प्यार की नींव
जैसे एक मजबूत मकान बनाने के लिए मजबूत नींव का होना बहुत जरूरी होता है। वैसे ही प्यार का महल खड़ा करने के लिए सत्य और विश्वास की नींव का होना बहुत जरूरी है। अगर आपके प्यार रूपी महल की नींव कमजोर....



भाग्य में लिखा वो मिला
जोधपुर के राजा मानसिंह हालाँकि जोधपुर राजपरिवार में पैदा हुए पर उनके पिता का जोधपुर राज्य के राजा के छोटे पुत्र होने के कारण गद्दी पर उनका अधिकार कतई नहीं रहा। जब पिता के ही हक़ में राजगद्दी नहीं....



चितौड़ की रानी कर्मवती
सभी राजपूत रियासतों को एक झंडे के नीचे लाने वाले महाराणा सांगा महाराणा सांगा के निधन के बाद चितौड़ चित्तोर की गद्दी पर महाराणा रतन सिंह बैठे। राणा रतन सिंह के निधन के बाद उनके भाई विक्रमादित्य....



घमण्‍डी राजकुमारी
एक बहुत खुबसूरत राजकुमारी थी। लेकिन घमण्डी भी बहुत थी।विवाह योग्य होने पर उसके आग्रह से राजा ने स्वयंवर का आयोजन किया। स्वयंवर की शर्त थी कि – वह रोज अपने पति को दो बार चप्पल से पीट कर ही भोजन....




कवि ने सिर तुड़वाया पर सम्मान नहीं खोया
चारण कवि उदयभान जी बारहट मेवाड़ राज्य के ताजिमी सरदार थे। उस वक्त मेवाड़ की राजगद्दी पर महाराणा राजसिंह जी आरूढ़ थे। एक दिन कवि उदयभान जी महाराणा से मिलने आये पर सयोंग की बात कि उस वक्त महाराणा राजसिंह....



बाघा भारमली की अमर प्रेम कहानी
समाज और परम्पराओं के विपरित बाघा भारमली की प्रेम कथा बाड़मेर के कण-कण में समाई है। इस प्रेम कथा को रुठी रानी में अवश्य विस्तार मिला है। मगर, स्थानीय तौर पर यह प्रेम कथा साहित्यकारों द्वारा अपेक्षित....